become an author

महिलाओं के उत्थान के लिए शिक्षा जरूरी।

अयोध्या। आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय के सामुदायिक विज्ञान महाविद्यालय के मानव विकास एवं परिवार अध्ययन विभाग द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर महिला संगोष्ठी का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम विवि के कुलपति डा बिजेंद्र सिंह के दिशा निर्देशन में आयोजित हुआ। 

विवि के कुलसचिव डॉ पीएस प्रमाणिक ने कहा कि महिलाओं के सम्मान में बढ़ोत्तरी तभी संभव है जब महिलाएं शिक्षित होंगी। महिलाओं को सकारात्मक सोच के साथ अपने आत्मविश्वास को बढ़ाना चाहिए। अधिष्ठाता डॉ प्रतिभा सिंह ने देश की सफल महिलाओं का उदाहरण देते हुए सभी महिलाओं को विकास के पथ पर आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। कहा कि लैंगिक समानता महिला सशक्तिकरण की दिशा में बेहतर प्रयास है। 

100 सैया अस्पताल की चिकित्सा अधिकारी डॉ आशा आर्य ने बताया कि महिलाओं को शारीरिक रूप से स्वस्थ रहना जरूरी है। महिलाओं को जांच के साथ-साथ कैल्शियम, विटामिन एवं आयरन की गोली समय- समय पर लेना जरूरी है। अधिष्ठाता डॉ साधना सिंह ने कहा कि यह उस प्रगति पर विचार करने और उन चुनौतियों की पहचान करने का दिन है जिनका महिलाओं को अभी भी सामना करना पड़ता है। यह महिलाओं के अधिकारों को बढ़ावा देने और एक अधिक समावेशी और न्यायपूर्ण समाज बनाने के लिए हमारी प्रतिबद्धता को नवीनीकृत करने का भी दिन है जहां महिलाएं मूल्यवान, सम्मानित और समर्थित महसूस करती हैं। एनडीडीएवी की प्राचार्या पुष्पा ने महिला दिवस की शुभकामनाएं देते हुए बालिकाओं की शिक्षा पर जोर दिया।

ग्रामीण क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली चार महिलाओं को सम्मानित किया गया। छात्र छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम के जरिए महिलाओं में हो रहे निरंतर विकास को दर्शाया। इस अवसर पर रंगोली प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें प्रियंका प्रथम, विभा द्वितीय एवं साजिया ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। कार्यक्रम का संयोजन डा सरिता श्रीवास्तव व संचालन डॉ प्राची शुक्ला ने किया।

Leave a Comment

× How can I help you?