become an author

अवध विवि की एनईपी सम सेमेस्टर की परीक्षाएं 31 मई से।

नकलविहीन परीक्षा के लिए कुलपति ने केन्द्राध्यक्षों के साथ की बैठक

सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में होगी अविवि की सम सेमेस्टर परीक्षाएं। 

464 परीक्षा केन्द्रों पर 5 लाख 35 हजार 654 परीक्षार्थी शामिल होंगे।

अयोध्या। डाॅ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अन्तर्गत स्नातक व परास्नातक सम सेमेस्टर की परीक्षा को लेकर मंगलवार को कौटिल्य प्रशासनिक भवन के सभागार में अपराह्न कुलपति प्रो0 प्रतिभा गोयल की अध्यक्षता में प्राचार्यों एवं केन्द्राध्यक्षों के साथ आॅफ व आॅनलाइन बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में कुलपति ने बताया कि विश्वविद्यालय की एनईपी सम सेमेस्टर की परीक्षाएं 31 मई से शुरू हो रही है, जो 09 जुलाई तक चलेगी। उत्तर प्रदेश शासन की मंशानुरूप स्नातक एवं परास्नातक सेमेस्टर परीक्षाएं सीसीटीवी की निगरानी में नकलविहीन कराई जायेगी। सभी अपने दायित्वों का निवर्हन करते हुए पूर्व की भांति परीक्षा की शुचिता एवं पवित्रता बनाये रखने के लिए सहयोग प्रदान करें। बैठक में कुलपति ने केन्द्राध्यक्षों से कहा कि विश्वविद्यालय की स्नातक सम सेमेस्टर परीक्षा तीन पालियों में होगी। वहीं परास्नातक की परीक्षा दो पालियों कराई जायेगी। इस परीक्षा को सकुशल सम्पन्न कराने के लिए सात जनपदों में कुल 464 केन्द्र बनाये गए है। जिसमें स्नातक एवं परास्नातक में कुल 5 लाख 35 हजार 654 परीक्षार्थी शामिल होंगे। बैठक में कुलपति प्रो0 गोयल ने बताया कि एनईपी स्नातक में 4 लाख 36 हजार 348 परीक्षार्थी शामिल होंगे जिनमें 195532 छात्र एवं 240816 छात्राएं है। वही परास्नातक स्तर पर 99306 परीक्षार्थी परीक्षा देगें जिसमें 31199 छात्र व 68107 छात्राएं है। बैठक में कुलपति प्रो0 गोयल ने सभी केन्द्राध्यक्षों से कहा कि परीक्षा की शुचिता एवं पवित्रता बनाये रखने के लिए सभी केन्द्रों के सीसीटीवी कैमरे सुचारू रूप से संचालित होने चाहिए। इन केन्द्रों के कैमरे की निगरानी विश्वविद्यालय के कंट्रोल रूम से की जायेगी। इसके अतिरिक्त सदलदल द्वारा औचक निरीक्षण भी किया जायेगा। बैठक में कुलपति ने बताया कि परीक्षा को पारदर्शी बनाने के लिए उत्तर पुस्तिकाओं के संकलन के लिए सात जनपदों में कुल 18 संकलन केन्द्र बनाये गए है। इन केन्द्रों पर उत्तर पुस्तिकाओं को सुरक्षित ले जाने व जमा करने की जिम्मेदारी केन्द्राध्यक्षों की होगी। इसके अतिरिक्त जनपदों के जिलाधिकारी एवं पुलिस प्रशासन को पारदर्शीपूर्ण परीक्षा के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा पत्र निर्गत कर दिया गया है। सभी के सहयोग से नकलविहीन परीक्षा सम्पन्न कराई जायेगी। उन्होंने केन्द्राध्यक्षों से कहा कि परीक्षा की समाप्ति के दो माह के अन्दर पारिश्रमिक भुगतान हेतु पत्रावली विश्वविद्यालय का प्रेषित कर दे जिससे तयसमय पर भुगतान कराया जा सके।

बैठक में विवि के परीक्षा नियंत्रक उमानाथ ने बताया कि नकलविहिन परीक्षा कराने के लिए परीक्षा केन्द्रों को यथा आवश्यक दिशा-निर्देश प्रदान कर दिया गया है। एनईपी की स्नातक बीए, बीएससी बीकाॅम द्वितीय सेमेस्टर परीक्षा प्रातः 07 बजे 09 बजे तक, द्वितीय पाली की परीक्षा 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक एवं तृतीय पाली की परीक्षा अपराह्न 02 से 04 बजे तक सम्पन्न होगी। स्नातक परीक्षा 31 मई से शुरू होकर 09 जुलाई तक चलेगी। वहीं परास्नातक की परीक्षा 21 जून से प्रारम्भ होकर 02 जुलाई तक होगी। परीक्षा की शुचिता के लिए सचलदल का गठन कर दिया गया है। इन पांच सचलदल द्वारा केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया जायेगा। इसके अलावा विश्वविद्यालय के कंट्रोल रूम से परीक्षा केन्द्रों के सीसीटीवी कैमरे की निगरानी की जायेगी। बैठक में राजकीय, अशासकीय, स्ववित्तपोष्षित महाविद्यालयों के केन्द्राध्यक्ष सहित विश्वविद्यालय के मुख्य नियंता प्रो0 संत शरण मिश्र, मीडिया प्रभारी डाॅ0 विजयेन्दु चतुर्वेदी, प्रोग्रामर रवि मालवीय मौजूद रहे।                                               

Leave a Comment

× How can I help you?