become an author

विश्व कीर्तिमान बनाने के लिए कुलपति ने दिलाई योग शपथ।

चेतना और मन का दृढ़ निश्चय ही योगः कुलपति प्रो0 प्रतिभा गोयल।

अयोध्या। डाॅ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो0 प्रतिभा गोयल ने मंगलवार को पूर्वांह्न स्वामी विवेकानंद सभागार में अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस को एतिहासिक बनाने के लिए विश्वविद्यालय के समस्त संकायाध्यक्षों, विभागाध्यक्षों, अधिकारियों, शिक्षकों, कर्मचारियों एवं छात्र-छात्राओं के साथ योग की शपथ ली। उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के दिशा-निर्देशन में योग शपथ में विश्व कीर्तिमान बनाने के लिए राज्य विश्वविद्यालयों से दोपहर तक साढ़े चैबीस लाख से अधिक लोगों ने ऑनलाइन योग की शपथ लेकर सर्टिफिकेट प्राप्त किया है।

इस ऑनलाइन योग शपथ के अंतिम दिन कुलपति प्रो0 गोयल द्वारा समस्त को शपथ दिलाई गई। कुलपति ने बताया कि विश्वविद्यालय व सम्बद्ध सात जनपदों के महाविद्यालयों से काफी संख्या में लोगों ने ऑनलाइन शपथ ली है। वहीं आमजनमानस भी अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस को एतिहासिक बनाने में पीछे नहीं है। प्रदेशवासियों के योग शपथ लेने की सक्रियता को देखते हुए अवश्य ही गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड में उत्तर प्रदेश का नाम दर्ज होगा। उन्होंने बताया कि प्रकृति ने हमें अनमोल उपहार के रूप में योग दिया है। इससे हमारे जीवन का सर्वांगीण विकास होता है। चेतना और मन का दृढ़ निश्चय ही योग है। इसे जीवन में लाने से ब्रह्म की प्राप्ति होती है। ऑनलाइन योग शपथ से निश्चित ही अपना प्रदेश विश्व कीर्तिमान बनायेगा।

योग नोडल समन्वयक प्रो0 एसएस मिश्र ने बताया कि सभी के सहयोग से योग शपथ में उत्तर प्रदेश का नाम गिनिज बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड में दर्ज होगा। विश्वविद्यालय व सम्बद्ध महाविद्यालयों में काफी संख्या में लोगों द्वारा योग की शपथ लेकर सर्टिफिकेट डाउनलोड किया है। उन्होंने बताया कि 21 जून को अन्तरराष्ट्रीय योग दिवस को भव्य बनाने के लिए तैयारी की जा रही है। सभी को दिशा-निर्देश प्रदान कर दिया गया है।

इस योग शपथ ग्रहण में वित्त अधिकारी पूर्णेन्दु शुक्ल, डाॅ0 अंजनी कुमार मिश्र, परीक्षा नियंत्रक उमानाथ, उप कुलसचिव डाॅ0 रीमा श्रीवास्तव, दिनेश कुमार मौर्य, मो0 सहील सहित समस्त संकायाध्यक्ष, विभागाध्यक्ष, समन्वयक, शिक्षकगण, कर्मचारीगण एवं छात्र-छात्राएं शामिल रहे।

Leave a Comment

× How can I help you?